अपना इलाज अपने हाथ ।


माली संस्थान, जोधपुर एवं बहुप्रतियोगी प्रषिक्षण संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में विशाल प्राकृतिक चिकित्सा ( अपना इलाज अपने हाथ )शिविर का आयोजन रविवार दिनांक 21 अगस्त् 2016 को प्रातः 09:30 से दोपहर 12:30 तक रामबाग परिसर कागा रोड़ महामन्दिर जोधपुर में रखा गया।

डॉ. पीयूष सक्सेना (पी.एचडी., नेचुरोपैथी, यूएसए) मुम्बई द्वारा हृदयरोग, पित्ताशय एवं गुर्दे की पत्थरी, मोटापा, ब्लड शूगर, ब्लडप्रेशर, डिप्रेशन, अनिद्रा, थॉयरॉइड, सिरदर्द, गायनिक एवं एलर्जी जैसे तमाम तरह की बीमारियों का प्राकृतिक चिकित्सा (क्लीजिंग थेरेपी) द्वारा उपचार के बारे में जानकारी निःशुल्क प्रदान की गई।

भारत में क्लजिंग थैरेपी के प्रेरणा स्त्रोीत डॉ. पीयूषजी सक्सेना द्वारा लिवर, गुर्दे के अलावा एसीडिटी, पैरासाइट, जोड़ों के विकार एवं अतिरिक्त चर्बी को कम करने हेतु विभिन्न प्रकार के क्लीजिंग के बारे में विस्तृत जानकारी दी ।

अपना इलाज अपने हाथ