श्री राजेन्द्र सिंह सोलंकी, पूर्व अध्यक्ष जोधपुर विकास प्राधिकरण, जोधपुर


श्री राजेन्द्र सिंह सोलंकी का जन्म 13 फरवरी 1955 को कृषक सेठ श्री अचलूराम जी सोलंकी के परिवार में हुआ। बाल्यकाल से ही आर्य वीर दल की शाखाओं में नियमित जाने वाले श्री सोलंकी के जीवन में आर्य समाज के संस्कारों का अच्छा प्रभाव रहा है।

श्री सोलंकी गरीब, दलित एवं जरूरतमंद, प्रत्येक व्यक्ति के लिये सुलभ रहते है, जिनका कोई सुनने वाला नही है। नगर में कई सामाजिक संस्थाओं से जुडकर सक्रिय समाजसेवा करने वाले श्री सोलंकी प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के बचपन के मित्र है और एक ही मोहल्ले महामन्दिर के निवासी है।

श्री सोलंकी का राजनैतिक पदार्पण भी श्री गहलोत ने ही कराया। 1982 में जोधपुर नगर परिषद मे सर्वाधिक मतों से कांग्रेस टिकट पर विजयी होकर निर्वाचित होने वाले श्री सोलंकी ने समाज सेवा को ही अपना धर्म बनाया और आज भी सक्रिय होकर कार्य कर रहे है।

सन् 2000 में शताब्दी के भीषण अकाल के समय जोधपुर संभाग के दूरस्थ गांवो ढाणियों में मूक पशुधन को भूख प्यास से बचाने हेतु चारा व पानी की व्यवस्था करने में जुटे और जोधपुर शहर से चारे की गाड़ियां एवं पानी के टेंकर भेजते रहे।

26 जनवरी 2001 में गुजरात के कच्छ-भुज क्षेत्र में आयें विनाशकारी भूकम्प के समय, बाबू लक्ष्मणसिंह सेवा देवी गहलोत मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी की और स्वयं के कार्य दल के साथ भुज की तहसील अंजार के सीनूग्रा गांव को गोद लेकर राहत एवं सेवा कार्य मे जुटे रहे। 35 ट्रक खाद्य एवं राशन सामग्री, कपड़े, कम्बल, डम्पर, लोडर-मशीन इत्यादि लेकर पहुचे। श्री सोलंकी के कार्यो को जनता ने सराहा। समय-समय पर नगर की विभिन्न सामाजिक संस्थाओ, विद्यालयों, स्वजाति माली सैनी समाज में सदैव आप संक्रिय होकर कार्य करते रहे। आपके सराहनीय सेवा कार्य को देखते हुए माननीय श्री अशोक गहलोत ने 1993 में सरदारपुरा विधानसभा में कांग्रेस का टिकट भी दिया। जिला कांग्रेस कमेटी में भी आप लम्बे समय (1990 से 2000) तक महामंत्री रहे। वर्ष 1996 में नगर पेयजल समस्या के निदान की माँग पर 6 दिन जल यात्रा की। वर्ष 2001 में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य बनें।

माननीय मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने जोधपुर नगर विकास न्यास के अध्यक्ष पद पर 04 मार्च 2002 को नियुक्त कर आपको नगर की सेवा करने का अवसर प्रदान किया है। श्री सोलंकी जोधपुर नगर के विकास हेतु न्यू जोधपुर बनाने के लिए कार्य योजना बनाकर श्री गहलोत का सपना पूरा करने में दिन-रात जुटे हुए थे। विकाय कार्य:- जोधपुर राजस्थान का दूसरा बड़ा शहर है। सोलंकी को जब से जोधपुर नगर विकास न्यास के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी सौपी गई आपने तीव्रगति से नगर के समग्र सन्तुलित एवं सुनियोजित विकास को सबके सहयोग से गतिशीलता प्रदान की। आपने नगर के हर क्षेत्र में सामाजिक समारोह हेतु 102 सामुदायिक भवन के निर्माण हेतु स्वीकृति प्रदान की। सामुदायिक भवनों का निर्माण पूर्ण कर दिया गया है। जोधपुर के सौन्दर्यीकरण हेतु न्यास सौन्दर्यीकरण समिति द्वारा औद्यौगिक घरानों को एवं सार्वजनिक संस्थाओं को गोद देकर नगर के विभिन्न चौराहों पर फव्वारे व लाइटे लगाकर व जोधपुर के स्थानीय पत्थर, कलात्मक जालियों को लगाकर सौन्दर्यीकरण करवाया है। कच्ची बस्तियों एवं अन्यत्र आरक्षित भूमि उद्यानों की चार दीवारी का निर्माण करवाया। हाल ही में माननीय मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने जोधपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष पद पर नियुक्त कर आपको जोधपुर में विकास का अवसर प्रदान किया है। आज श्री सोलंकी जोधपुर नगर के विकास हेतु न्यू जोधपुर बनाने के लिए कार्य योजना बनाकर श्री गहलोत का सपना पूर्ण करने में दिन रात जुटे हुए है।